डॉ राकेश ‘ चक्र

(हिंदी साहित्य के सशक्त हस्ताक्षर डॉ. राकेश ‘चक्र’ जी  की अब तक कुल 148 मौलिक  कृतियाँ प्रकाशित। प्रमुख  मौलिक कृतियाँ 132 (बाल साहित्य व प्रौढ़ साहित्य) तथा लगभग तीन दर्जन साझा – संग्रह प्रकाशित। कई पुस्तकें प्रकाशनाधीन। जिनमें 7 दर्जन के आसपास बाल साहित्य की पुस्तकें हैं। कई कृतियां पंजाबी, उड़िया, तेलुगु, अंग्रेजी आदि भाषाओँ में अनूदित । कई सम्मान/पुरस्कारों  से  सम्मानित/अलंकृत। भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय द्वारा बाल साहित्य के लिए दिए जाने वाले सर्वोच्च सम्मान ‘बाल साहित्य श्री सम्मान’ और उत्तर प्रदेश सरकार के हिंदी संस्थान द्वारा बाल साहित्य की दीर्घकालीन सेवाओं के लिए दिए जाने वाले सर्वोच्च सम्मान ‘बाल साहित्य भारती’ सम्मान, अमृत लाल नागर सम्मान, बाबू श्याम सुंदर दास सम्मान तथा उत्तर प्रदेश राज्यकर्मचारी संस्थान  के सर्वोच्च सम्मान सुमित्रानंदन पंत, उत्तर प्रदेश रत्न सम्मान सहित पाँच दर्जन से अधिक प्रतिष्ठित साहित्यिक एवं गैर साहित्यिक संस्थाओं से सम्मानित एवं पुरुस्कृत। 

 आदरणीय डॉ राकेश चक्र जी के बारे में विस्तृत जानकारी के लिए कृपया इस लिंक पर क्लिक करें 👉 संक्षिप्त परिचय – डॉ. राकेश ‘चक्र’ जी।

आप  “साप्ताहिक स्तम्भ – समय चक्र” के माध्यम से  उनका साहित्य आत्मसात कर सकेंगे।)

☆ साप्ताहिक स्तम्भ – समय चक्र – # 177 ☆

☆ बाल गीत – जय – जय गणेश ☆ डॉ राकेश ‘चक्र’ 

जय गणेश जी, जय गणेश जी

पुकारती माँ भारती।

मंगल ही मंगल कर देना

सभी करें मिल आरती।।

 

अनुपम , सुंदर वेश आपका

बुद्धि के हो  प्राण प्रदाता।

पार्वती हैं माता देवी

सदैव आपको मोदक भाता।।

 

निर्बल को शक्ति भी देना

दृष्टि दीजिए पारखी।

जय गणेश जी , जय गणेश जी

पुकारती माँ भारती।।

 

सबको भोजन –  पानी देना

संग – साथ गुड़धानी देना।

हँसता बचपन सबको देकर

सेहत भरी जवानी देना।

 

धन से कोई हीन न रखना

धन बन जाए सारथी।

जय गणेश जी , जय गणेश जी

पुकारती  माँ भारती।।

 

बुद्धिमान हो ,  ज्ञानवान हो

मानुष ने मूषक बैठाया।

कौन कला का ज्ञानी इतना

मुझे समझ आज तक न आया।

 

जिस पर दया आपकी होती

कष्ट , विघ्न से तारती।

जय गणेश जी , जय गणेश जी

पुकारती माँ भारती।।

 

कार्तिकेय भ्रात सुखकारी

पिता महेश्वर हैं कल्याणी।

दो वरदान सभी को ऐसा

मधुर –  मधुर सब बोलें वाणी।

 

अर्चन , पूजा आओ कर लें

मन का मैल बुहारती।

जय गणेश जी , जय गणेश जी

पुकारती माँ भारती।।

 

© डॉ राकेश चक्र

(एमडी,एक्यूप्रेशर एवं योग विशेषज्ञ)

90 बी, शिवपुरी, मुरादाबाद 244001 उ.प्र.  मो.  9456201857

[email protected]

≈ संपादक – श्री हेमन्त बावनकर/सम्पादक मंडल (हिन्दी) – श्री विवेक रंजन श्रीवास्तव ‘विनम्र’/श्री जय प्रकाश पाण्डेय  ≈

image_print
0 0 votes
Article Rating

Please share your Post !

Shares
Subscribe
Notify of
guest

0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments